सहवाग ने की धोनी की तारीफ, केएल राहुल के बैटिंग पोजिशन को लेकर कही ये बड़ी बात

टीम इंडिया ने हाल ही में तीन मैचों की वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को 2-1 शिकस्त दी है. लेकिन इसके बावजूद भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने टीम मैनजमेंट पर सवाल उठाए हैं. वीरेंद्र सहवाग का मानना है कि केएल राहुल अगर टी20 में पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए कुछ दफा विफल हो जाता है तो भारतीय टीम मैनेजमेंट उन्हें इस स्थान पर बरकरार नहीं रखेगा. लेकिन ऐसा महेंद्र सिंह धोनी के टाइम पर नहीं होता था. उस वक्त हर किसी को पर्याप्त मौके दिए जाते थे.

वीरेंद्र सहवाग ने Cricbuzz से कहा, ‘‘अगर केएल राहुल पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए चार बार विफल रहता है तो मौजूदा भारतीय टीम प्रबंधन उनका स्थान बदलने की कोशिश करेगा. हालांकि धोनी के साथ ऐसा नहीं होता था, जो जानते थे कि खिलाड़ियों का ऐसे हालात में समर्थन करना कितना अहम होता है क्योंकि वह खुद इस मुश्किल दौर से गुजरे थे.’’

वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि जब धोनी कप्तान थे तो टीम चयन में थोड़ी स्पष्टता रहती थी. उन्होंने कहा, ‘‘जब एमएस धोनी कप्तान थे तो बल्लेबाजी यूनिट में हर खिलाड़ी के स्थान के संबंध में काफी स्पष्टता रहती थी. वह प्रतिभा का पारखी था और उसने उन खिलाड़ियों को पहचाना जो भारतीय क्रिकेट को आगे लेकर गए.’’

सहवाग ने आगे कहा, “उन्हें पता था कि ये उनके ओपनर हैं, ये उनके लिए मिडिल ऑर्डर में खेलेंगे. वो खुद नंबर 5 पर आते थे फिर केदार जाधव नंबर 6 पर और फिर हार्दिक पंड्या या रवींद्र जडेजा. तो वो नीचे आने वाले बल्लेबाजों को बैक करते थे. अगर केएल राहुल 5वें नंबर पर अगर लगातार 4 पारियों में नहीं चलते हैं तो विराट कोहली उन्हेंक बदलते हुए नजर आएंगे. ऐसा एमएस धोनी के समय नहीं होता था.”

सहवाग ने कहा, “मैंने भी ओपनिंग से पहले मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी की थी और कई गलतियां की, जिससे टीम की हार भी हुई. लेकिन आप बेंच पर बाहर बैठे बड़े खिलाड़ी नहीं बनते. खिलाड़ियों को समय की जरूरत होती है.”

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज में केएल राहुल पहले मैच में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए थे. लेकिन पहले मुकाबले में मिली करारी हार के बाद दूसरे मैच में केएल राहुल को पांचवें नंबर पर खिलाया गया और उन्होंने वहां खेलते हुए एक शानदार पारी खेली. वहीं पहले मैच में विकेटकीपर-बल्लेबाज रिषभ पंत के चोटिल होने पर केएल राहुल ने इस सीरीज में विकेटकीपिंग की भी जिम्मेदारी संभाली थी और बेहतरीन प्रदर्शन किया था.

वहीं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने भी सीरीज पर कब्जा करने के बाद केएल राहुल की जमकर तारीफ की थी. उन्होंने कहा था कि केएल राहुल का विकेटकीपर के रूप में इस्तेमाल करने से टीम को संतुलन मिलता है. केएल राहुल के टीम में होने से एक अतिरिक्त बल्लेबाज की जगह बनती है. कोहली ने ये भी संकेत दिए हैं कि राहुल अब न्यूजीलैंड दौरे पर भी पांच मैचों की टी20 सीरीज में विकेटकीपिंग करते दिखेंगे.

 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.