अखिलेश यादव बोले- 2022 में लोकतंत्र बचाने का आखिरी चुनाव, ये BJP को हराने का अंतिम अवसर

अखिलेश ने कहा, लोकतंत्र बचाने का आखिरी चुनाव अगले साल 2022 में होना है और यह बीजेपी को हराने का अंतिम अवसर है. किसान, गरीब, नौजवान सभी बीजेपी के विरूद्ध लामबंद हो रहे हैं और समाजवादी पार्टी के साथ हैं.

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी झूठ पर शोध करती है और नफरत फैलाती है. समाजवादी पार्टी के मुख्‍यालय में शुक्रवार को नव वर्ष की शुभकामना और बधाई देने आए कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा, ”पार्टी कार्यकर्ताओं को जनता को सच्चाई बतानी है और सपा सरकार की उपलब्धियों के बारे में भी बताना है. मंहगाई बढ़ गई है और सरकार किसानों को बहका रही है.”

लोकतंत्र बचाने का आखिरी चुनाव अगले साल- अखिलेश

अखिलेश यादव ने कहा, ”किसानों को बाजार के सहारे नहीं छोड़ा जा सकता है, लेकिन बीजेपी सरकार कॉरपोरेट की पक्षधर है, इसीलिए किसान विरोधी तीन कानून बनाकर उन्हें बर्बाद करने का षडयंत्र रचा है, जिसके विरोध में किसान आक्रोशित हैं.” उन्‍होंने कहा, ”लोकतंत्र बचाने का आखिरी चुनाव अगले साल 2022 में होना है और यह बीजेपी को हराने का अंतिम अवसर है. किसान, गरीब, नौजवान सभी बीजेपी के विरूद्ध लामबंद हो रहे हैं और समाजवादी पार्टी के साथ हैं.”

सपा संस्‍थापक और पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव ने भी नववर्ष 2021 के लिए सभी देशवासियों को बधाई देते हुए उनके सुख-समृद्धि की कामना की है और साल 2022 के विधानसभा चुनावों में बहुमत दिलाकर सपा सरकार बनाने के लिए एकजुट होने को कहा.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *