Asaduddin Owaisi ने Mohan Bhagwat के बयान पर जताई आपत्ति, पूछा- ‘क्यों बांट रहे सर्टिफिकेट’

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक मोहन भागवत के बयान पर असदुद्दीन ओवैसी ने उनसे कई सवाल पूछे. एआईएमआईएम (AIMIM) चीफ ओवैसी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS)  प्रमुख को गांधी जी की हत्या की बात भी याद दिलाई.

नई दिल्ली: एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) के देशभक्ति वाले बयान पर नाराजगी जताई है. असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने मोहन भागवत से उनके बयान पर कई सवाल पूछे और कड़ी आपत्ति जताई.

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने ट्वीट करके पूछा कि मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) गांधी जी के हत्यारे गोडसे के बारे में क्या कहेंगे? नेली नरसंहार, 1984 के सिख विरोधी दंगे और 2002 के गुजरात दंगे के जिम्मेदार लोगों पर क्या कहेंगे?

एआईएमआईएम (AIMIM) सांसद असदुद्दीन (Asaduddin Owaisi) ओवैसी ने अपने ट्वीट में आगे लिखा कि यह मानना ​​तर्कसंगत है कि अधिकांश भारतीय देशभक्त हैं, भले ही वो किसी को भी मानते हों.

बता दें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक मोहन भागवत ने शुक्रवार को कहा था कि अगर कोई हिंदू है तो वह देशभक्त होगा और यह उसका बुनियादी चरित्र व प्रकृति है. संघ प्रमुख ने महात्मा गांधी की उस टिप्पणी को याद दिलाते हुए कहा कि हिंदुओं की देशभक्ति की उत्पत्ति उनके धर्म से हुई है.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक मोहन भागवत जे. के. बजाज और एम. डी. श्रीनिवास की बुक ‘मेकिंग ऑफ ए हिंदू पैट्रियट: बैकग्राउंड ऑफ गांधी जी हिन्द स्वराज’ को लॉन्च करते हुए ये बात कही.

मोहन भागवत ने कहा कि इस बुक के नाम और मेरे द्वारा इसके विमोचन करने पर अटकलें लगाई जा सकती हैं कि ये बुक गांधी जी को अपने तरीक से परिभाषित करती है.

सरसंघचालक मोहन भागवत ने कहा, ‘महापुरुषों को कोई भी अपने हिसाब से परिभाषित नहीं कर सकता.’ उन्होंने आगे कहा कि यह बुक व्यापक शोध पर आधारित है और जिनका इससे मत अलग है वो भी शोध करके बुक लिख सकते हैं.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *