Exclusive: शुभेंदु अधिकारी बोले- RSS की शाखा में जाता था, अब जय श्रीराम भी बोलने लगा

‘बंगाल बदलाव मांग रहा’

शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि बंगाल का विकास और बुआ भतीजावाद खत्म करने को लेकर मेरी बीजेपी के साथ डील हुई है. अगले सीएम की पहचान करने के लिए राष्ट्रीय नेतृत्व है. बंगाल के लोग प्रधानमंत्री मोदी के लिए वोट करेंगे. उन्होंने कहा कि बंगाल अब बदलाव मांग रहा है. पिछले 10 वर्षों से यहां कुछ नहीं बदला. कई विधायक बीजेपी से जुड़ना चाहते हैं. जिनको लोगों के लिए काम करना है उन्हें बीजेपी से जुड़ना होगा. 

‘बंगाल की जनता टीएमसी को देगी जवाब’

बीजेपी नेता ने कहा कि जब पार्टी की जड़ें कमजोर होने लगती हैं तो वो राजनीतिक हिंसा का सहारा लेती है. लेफ्ट ने 1996 के बाद ऐसा किया था और अब देखिए क्या हो रहा है. टीएमसी भी वही कर रही है. बंगाल की जनता टीएमसी को जवाब देगी. शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के उम्मीदवारों को परेशान किया गया, लेकिन इसके बावजूद पार्टी 18 सीटें जीतने में सफल रही. मैं केंद्र सरकार से मांग करता हूं कि वो बंगाल में पैरामिलिट्री फोर्स को तैनात करे और निष्पक्ष चुनाव के लिए चुनाव आयोग राज्य को अपने नियंत्रण में ले. 

शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि बंगाल का विकास और बुआ भतीजावाद खत्म करने को लेकर मेरी बीजेपी के साथ डील हुई है. अगले सीएम की पहचान करने के लिए राष्ट्रीय नेतृत्व है. बंगाल के लोग प्रधानमंत्री मोदी के लिए वोट करेंगे. उन्होंने कहा कि बंगाल अब बदलाव मांग रहा है. पिछले 10 वर्षों से यहां कुछ नहीं बदला. कई विधायक बीजेपी से जुड़ना चाहते हैं. जिनको लोगों के लिए काम करना है उन्हें बीजेपी से जुड़ना होगा. 

‘बंगाल की जनता टीएमसी को देगी जवाब’

बीजेपी नेता ने कहा कि जब पार्टी की जड़ें कमजोर होने लगती हैं तो वो राजनीतिक हिंसा का सहारा लेती है. लेफ्ट ने 1996 के बाद ऐसा किया था और अब देखिए क्या हो रहा है. टीएमसी भी वही कर रही है. बंगाल की जनता टीएमसी को जवाब देगी. शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के उम्मीदवारों को परेशान किया गया, लेकिन इसके बावजूद पार्टी 18 सीटें जीतने में सफल रही. मैं केंद्र सरकार से मांग करता हूं कि वो बंगाल में पैरामिलिट्री फोर्स को तैनात करे और निष्पक्ष चुनाव के लिए चुनाव आयोग राज्य को अपने नियंत्रण में ले. 

आजतक से खास बातचीत करते हुए शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि पश्चिम बंगाल की जनता बदलाव चाहती है और यहां पर बीजेपी की सरकार बनने जा रही है. बंगाल के लोग प्रधानमंत्री मोदी के लिए वोट करेंगे. हाल ही में बीजेपी में शामिल होने वाले शुभेंदु अधिकारी ने इसके साथ ही तृणमूल कांग्रेस को प्राइवेट लिमिटेड कंपनी करार दिया. 

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को झटका देने वाले शुभेंदु अधिकारी जमकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तारीफ में कसीदे पढ़ रहे हैं. आजतक से खास बातचीत करते हुए शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि पश्चिम बंगाल की जनता बदलाव चाहती है और यहां पर बीजेपी की सरकार बनने जा रही है. बंगाल के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए वोट करेंगे. हाल ही में बीजेपी में शामिल होने वाले शुभेंदु अधिकारी ने इसके साथ ही तृणमूल कांग्रेस को प्राइवेट लिमिटेड कंपनी करार दिया. 

उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी है. ममता बनर्जी उसकी चेयरपर्सन हैं और अभिषेक बनर्जी इसके मैनेजिंग डायरेक्टर हैं. ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि टीएमसी प्रमुख ने अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी को स्थापित करने के लिए पार्टी के नेताओं के दरकिनार कर दिया. 

टीएमसी के कई नेता बीेजेपी में आएंगे

बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि मैं बूथ लेवल पर काम करूंगा और ये सुनिश्चित करूंगा कि टीएमसी को एक भी बूथ स्तर का कार्यकर्ता ना मिले. मैं ये सुनिश्चित करूंगा कि प्रतिदिन बीजेपी में कोई ना कोई शामिल हो. मैं पार्टी के लिए एक अनुशासित कार्यकर्ता के रूप में काम करूंगा. उन्होंने कहा कि टीएमसी के कई नेता जल्द बीजेपी में आएंगे. ये तो अभी बस शुरुआत है. 

‘अल्पसंख्यक तुष्टिकरण का हिस्सा नहीं था’

बीजेपी के साथ अपने जुड़ाव को याद करते हुए शुभेंदु अधिकारी कहते हैं कि स्कूल के दिनों में मैं आरएसएस की शाखा में जाया करता था. मैं कभी भी अल्पसंख्यक तुष्टिकरण का हिस्सा नहीं था. मैंने व्यक्तिगत रूप से टीएमसी में भी इसके खिलाफ आवाज उठाई है. मैं गायत्री मंत्र का जाप करता हूं. उन्होंने कहा कि यह सच है कि राजनीतिक मंचों पर मैंने जय श्रीराम नहीं कहा, लेकिन अब मैं कर रहा हूं.  मैं घर से टीका लगाकर नहीं निकलता, लेकिन लोग मेरे माथे पर इसे लगाते हैं. मंदिर जाने में गलत क्या है. एक कार्यकर्ता होने के नाते मैं बीजेपी की नीतियों का पालन कर रहा हूं. 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *