कुछ घंटे पहले अधिकारी ने दिया भ्रष्टाचार के खिलाफ भाषण, फिर घूस लेते पकड़ा गया

जयपुर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अफसर को घूसखोरी लेते रंगे हाथ पकड़ा. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने उसके खिलाफ कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर लिया है.

जयपुर: मोधापुर जिले में धूसखोर लोगों को दबोचने का जिम्मा उठाने वाला अफसर खुद घूसखोर निकला औरउसी के महकमे यानि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने रंगे हाथों दबोच लिया. मज़ेदार की बात ये है कि ये घूसखोर अफसर पकड़े जाने से महज दो घंटे पहले अपने साथ काम करने वाले लोगों को घूसखोरों को पकड़ने और पूरी ईमानदारी से काम करने का भाषण देकर आया था.

अपने स्टाफ को ईमानदारी से काम करने का दे रहा था भाषण

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो का ये भ्रष्ट अफसर भेरू लाल मीणा है जो राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले में पुलिस उप अधीक्षक के पद पर तैनात था. मीणा के बारे में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के जयपुर में बैठे आला अफसरों को पिछले दो तीन महीनों से सूचना मिल रही थी कि वो सरकारी महकमों के लोगों से मासिक बंधी वसूल करता है. इसको देखते हुए ब्यूरो के अफसर मीणा पर निगाह रखे हुए थे. बुधवार को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो पूरे प्रदेश में एंटी करप्शन-डे मना रहा था. भेरू लाल मीणा इस समारोह का मुख्य वक्ता था.

बताया जा रहा है कि मीणा ने करीब ग्यारह बजे समारोह में भाषण दिया जिसमें उसने अपने स्टाफ से कहा कि देश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए जरूरी है कि सभी लोग ईमानदारी से काम करें. अपने हाथ में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो का टोल फ़्री नम्बर 1064 का पोस्टर हाथ में लेकर भेरू लाल मीणा ने बकायदा फोटो खिंचवाए. साथ ही वहां मौजूद लोगों से अपील कि कोई भी अगर आपसे घूस मांगे तो इस हेल्प लाइन नम्बर पर फोन करके सूचना दें.

पुलिस ने मीणा के घर से जमीन के कागज और नकद बरामद की

ये समारोह खत्म हुआ और सिर्फ दो घंटे के भीतर जयपुर से गई भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की एक टीम ने भेरू लाल मीणा को उसके दफ़्तर में उस वक्त दबोच लिया जब वो परिवहन विभाग के डी टी ओ महेश चंद मीणा से अस्सी हजार की रिश्वत ले रहा था. राजस्थान में ये पहला मौका है जब भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने अपने किसी अफसर को ट्रेप किया हो. मीणा को घूसखोरी के आरोप में पकड़े जाने के बाद उसके घर की तलाशी ली गई. जहा से ज़मीनों के दस्तावेज और नक़द पैसा बरामद हुये. अभी उसके दूसरे कई ठिकानो पर भी तलाशी होने वाली है. भेरू लाल मीणा के साथ डी टी ओ महेश चंद मीणा को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. भेरू लाल मीणा की घूसखोरी और उसे रंगे हाथ पकड़े जाने की भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में चर्चा का मुद्दा बना हुआ है.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *