JEE-NEET परीक्षा : विरोध के बीच शिक्षा मंत्री ने कहा, ‘परीक्षा के समर्थन में हैं स्टूडेंट्स’

JEE-NEET की मुख्य परीक्षा को लेकर राजनीतिक दल भले ही सड़़कों पर उतर आए हैं, लेकिन परीक्षा स्थगित करने की मांग को लेकर विरोध पर अमादा राजनीतिक दलों को जवाब देते हुए शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि परीक्षार्थी परीक्षा के समर्थन में है।

इसके लिए शिक्षा मंत्री ने एनटीए डीजी द्वारा उपलब्ध कराए गए डेटा हवाला दिया है।8.58 लाख में से 7.5 लाख JEE स्टूडेंट्स ने डाउनलोड किए एडमिट कार्ड शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने एक ट्वीट के जरिए बताया है कि एनटीए डीजी के मुताबिक JEE मुख्य परीक्षा में बैठने वाले कुल 8.58 लाख परीक्षार्थियों में से 7.5 लाख ने जेईई के एडमिट कार्ड को डाउनलोड कर लिया है, जबकि, NEET 2020 टेस्ट के लिए बैठने वाले 15.97 लाख परीक्षार्थियों में से करीब 13 लाख ने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिया है, जो दर्शाता है कि स्टूडेंट्स परीक्षा के समर्थन में हैं और वो किसी भी कीमत पर परीक्षा में बैठना चाहते हैं।

इससे पहले, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने बताया था कि कोरोना महामारी को देखते हुए परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों की सुविधा को देखते हुए जेईई के लिए सेंटर को 570 से बढ़ाकर 660 कर दिया गया है, जबकि नीट 2020 टेस्ट के लिए 2,546 की जगह 3,842 सेंटर बनाए गए हैं। यही नहीं, छात्रों को पसंद के परीक्षा सेंटर भी दिए गए हैं और परीक्षार्थियों के लिए जारी किए गए गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराया जाएगा।

नीट और जेईई परीक्षा महामारी में कराने के विरोध में खड़े हैं विभिन्न दल नीट और जेईई परीक्षा कोरोना संकट के वक्त करवाए जाने के विरोध में खड़े बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने परीक्षा को इमरजेंसी का नसबंदी करार दिया था। वहीं, पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के बाद अब कांग्रेस भी परीक्षा के विरोध में उतरते हुए कल यानी 28 अगस्त को देशव्यापी प्रदर्शन करने का ऐलान किया है। 28 तारीख को कांग्रेस राज्य और जिला मुख्यालयों पर सुबह 11 बजे से देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेगी।

उम्मीदवारों को प्रवेश के समय थर्मल स्क्रीनिंग से गुजरना पड़ेगा हर उम्मीदवार के एडमिट कार्ड पर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए निर्देश दिए जाएंगे। उम्मीदवारों को प्रवेश के समय थर्मल स्क्रीनिंग से गुजरना पड़ेगा। तापमान 37.4 ° C / 99.4 ° F होने पर ही छात्रों को रजिस्ट्रेशन से आगे बढ़ने की अनुमति दी जाएगी। अगर तापमान सामान्य से ज्यादा हुआ तो ऐसे उम्मीदवारों को एक अलग कमरे में परीक्षा देनी होगी।

परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र में मास्क ,दस्ताने, पानी की बोतल लानी होगी हर छात्र को यह घोषित करना होगा कि वे COVID-19 से पीड़ित नहीं हैं या हाल में ऐसे किसी मरीज के संपर्क में नहीं आए हैं। प्रत्येक छात्र को मास्क, दस्ताने, पानी की बोतल और हैंड सैनिटाइज़र लेकर आना होगा। परीक्षा केंद्र पर कोई पानी निकालने की मशीन नहीं होगी। छात्रों के बीच कम से कम 6 फीट की दूरी रहेगी।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.