करण जौहर को नोटिस मिलने पर महाराष्ट्र कांग्रेस बोली- राज्य और बॉलीवुड को बदनाम करने की कोशिश हो रही है

सचिन सावंत कहना है कि वायरल वीडियो उस दौर का है जब देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री थे, चर्चा में रहे वीडियो पर एनसीबी ने तब कोई कार्यवाही क्यों नहीं की?

मुंबई: बॉलीवुड ड्रग्स के जुड़े तार की खोज करने के सिलसिले में इस बार एनसीबी ने मशहूर निर्माता और निर्देशक करण जौहर को समन भेजा था. यह मामला उस वायरल वीडियो से जुड़ा है जो काफी चर्चा में था. अब इस वीडियो को लेकर महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता सचिन सावंत ने बीजेपी पर और एनसीबी पर हमला बोला है.

सचिन सावंत कहना है कि वायरल वीडियो उस दौर का है जब देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री थे, चर्चा में रहे वीडियो पर एनसीबी ने तब कोई कार्यवाही क्यों नहीं की?

सचिन सावंत का कहना है कि जब से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में फिल्म सिटी बनाने की घोषणा की है तब से मुंबई और बॉलीवुड को बदनाम करने के लिए एनसीबी इस तरीके के मनमाने तौर पर समन भेज रही है. सचिन सावंत, कंगना रनौत का बयान भी याद दिलाते हैं जहां उन्होंने कहा था कि वह ड्रग एडिक्ट थीं. कंगना रनौत को एनसीबी ने अब तक नहीं बुलाया ये आरोप भी सचिन सावंत लगा रहे हैं.

महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा, ”सुशांत का मुद्दा जब से उठा है तब से लेकर अब तक बार-बार कोशिशें की जाती हैं कि महाराष्ट्र को बदनाम किया जाए. सुशांत मामले में भी कुछ नहीं निकला. एनसीबी भी आज तक कुछ नहीं पकड़ पाई. करण जौहर को समन का सीधा मोटिव महाराष्ट्र को बदनाम करने का है.”

ड्रग मामले में जब से सुशांत सिंह राजपूत की मौत हुई है तब से लगातार केंद्रीय एजेंसियां सक्रिय हैं इससे साथ ही राज्य और केंद्र के बीच की राजनीति भी सक्रिय है.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *