मोहम्मद आमिर ने क्रिकेट छोड़ा, PCB पर लगाया मानसिक प्रताड़ना का आरोप

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट छोड़ने का फैसला किया है. 28 साल के इस तेज गेंदबाज ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) पर ‘मानसिक प्रताड़ना’ का आरोप लगाया है. आमिर ने कहा कि ऐसे में वह क्रिकेट जारी नहीं रख पाएंगे.

Mohammad Amir

मोहम्मद आमिर ने जून 2019 में वर्कलोड मुद्दे पर टेस्ट से संन्यास का ऐलान कर दिया था. उन्होंने कहा कि मौजूदा पाकिस्तानी टीम प्रबंधन के तहत वह नहीं खेलना चाहते हैं. आमिर ने बताया कि न्यूजीलैंड में चल रही सीमित ओवरों की सीरीज के लिए उन्हें टीम से बाहर रखा गया. उन्हें क्रिकेट से दूर रखने की कोशिश की जा रही है. 

Mohammad Amir

आमिर ने कहा, ‘ जब मुझे 35 खिलाड़ियों में नहीं रखा गया, मेरे लिए अपना रास्ता अलग करने का समय आ गया. मैं अपना भविष्य अन्यत्र तलाशूंगा.’ उन्होंने कहा, ‘नहीं, मैं क्रिकेट से दूर नहीं जा रहा हूं. मुझे दूर करने की कोशिश की जा रही हूं. आपने यहां का माहौल देखा है और जिस तरह से मुझे दरकिनार किया गया है.’

जर्नलिस्ट शोएब जट ने आमिर का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया है. पाकिस्तान की वेबसाइट ‘खेल-शेल’ द्वारा जारी वीडियो इंटरव्यू में इस तेज गेंदबाज ने यह हैरानी भरी घोषणा की.

Mohammad Amir

आमिर ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि इस प्रबंधन के तहत क्रिकेट खेल पाऊंगा. मुझे इस समय क्रिकेट छोड़ देना चाहिए. मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है.’ उन्होंने कहा, ‘इसका मतलब है कि मुझे बताया जा रहा है कि मैं उनकी योजनाओं का हिस्सा नहीं हूं, इन सभी चीजों पर विचार करने के बाद मैं ऐसा (संन्यास लेने का फैसला) कर रहा हूं, मैं एक या दो दिन में पाकिस्तान पहुंच रहा हूं और इसका कारण बताते हुए बयान जारी करूंगा,’

मोहम्मद आमिर पाकिस्तानी टीम से बाहर होने के बाद श्रीलंका प्रीमियर लीग (LPL) के उद्घाटन संस्करण में भाग लेने के लिए श्रीलंका चले गए थे. बाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज ने गॉल ग्लैडिएटर्स के लिए 11 विकेट निकाले, और यह टीम उपविजेता रही.

Mohammad Amir

आमिर ने कहा कि समर्थन जताने के लिए वह पीसीबी के पूर्व अध्यक्ष नजम सेठी और पूर्व ऑलराउंडर शाहिद आफरीदी के आभारी हैं.

आमिर ने कहा, ‘मुझे बार-बार यह कहते हुए प्रताड़ित किया जा रहा है कि पीसीबी ने मुझमें इन्वेस्ट किया है. मैं अभी भी पीसीबी से दो लोगों को श्रेय देता हूं. मैं पांच साल की सजा पूरी करने के बाद लौटा था, ऐसा नहीं है कि मैं एक साल बाद लौटा. सेठी साहब और शाहिद आफरीदी, इन दो लोगों को मैं हमेशा धन्यवाद दूंगा, उन दोनों ने कठिन समय पर मेरा समर्थन किया. टीम के बाकी लोगों ने कह दिया था कि हम मोहम्मद आमिर के साथ नहीं खेलेंगे.’

Mohammad Amir

जुलाई 2016 में आमिर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की और पाकिस्तान की सीनियर टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन जारी रखा. 2017 में आमिर पाकिस्तान की चैम्पियंस ट्रॉफी जीत के नायक रहे थे. एकतरफा फाइनल में इस गेंदबाज ने भारत के शीर्ष क्रम को ध्वस्त (16 रन देकर 3 विकेट) कर दिया था. आमिर पाकिस्तान की उस टीम का भी हिस्सा रहे, जिसने 2009 का टी20 वर्ल्ड कप जीता था. 

आमिर ने 36 टेस्ट, 61 वनडे और 50 टी20 इंटरनेशनल में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया. उन्होंने 250 से अधिक अंतरराष्ट्रीय विकेट लिये.

Mohammad Amir

अभी श्रीलंका में मौजूद आमिर ने स्पॉट फिक्सिंग में शामिल होने के कारण लगे प्रतिबंध के संदर्भ में कहा, ‘मैं इस बार क्रिकेट को अलविदा कह रहा हूं क्योंकि मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है, मैं अब इस प्रताड़ना का सामना नहीं कर सकता. मैंने 2010 से 2015 तक प्रताड़ना का सामना किया, कारण चाहे कुछ भी रहा हो मैं क्रिकेट से दूर रहा. मैंने सजा का सामना किया और सब कुछ किया.’

Mohammad Amir

सोशल मीडिया पर आमिर का वीडियो वायरल होने के बाद पीसीबी के मुख्य कार्यकारी वसीम खान ने इस तेज गेंदबाज से बात की और संक्षिप्त बयान जारी किया. बयान के अनुसार, ‘29 साल के इस खिलाड़ी (आमिर) ने पीसीबी के मुख्य कार्यकारी को पुष्टि की है कि उनका अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने का कोई इरादा या इच्छा नहीं है और ऐसे में भविष्य के अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए उनके नाम पर विचार नहीं होगा.’

इसमें कहा गया, ‘यह मोहम्मद आमिर का निजी फैसला है, जिसका पीसीबी सम्मान करता है और इस समय इस मुद्दे पर और कोई बयान नहीं देगा.’

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *