मुरादाबाद: राम मंदिर निर्माण के नाम पर बीजेपी नेताओं की तस्वीर लगाकर की जा रही थी वसूली, पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

राम मंदिर निर्माण के नाम यहां एक संगठन लोगों से चंदा मांग रहा था. यही नहीं इस संगठन ने बीजेपी नेताओं की तस्वीरों का इस्तेमाल किया था. इसकी जानकारी जब बीजेपी के नेताओं को लगी तो उन्होंने पुलिस में इसकी शिकायत की.

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में राम मंदिर निर्माण के नाम पर वसूली का मामला सामने आने के बाद बीजेपी जिला अध्यक्ष की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. आरोप है कि चंदे की रसीद पर यूपी के कैबनेट मंत्री भूपेन्द्र सिंह और भाजपा जिला अध्यक्ष राजपाल सिंह चौहान की तस्वीर का भी इस्तेमाल किया गया है. विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ नाम के संगठन ने ये चंदे की रसीदें छपवाई हैं. कैबनेट मंत्री भूपेन्द्र सिंह का कहना है कि राम मंदिर के नाम पर धन संग्रह की शिकायत मिली थी. आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है. गलत काम करने वालों पर कार्रवाई होनी ही चाहिए.

मुकदमा दर्ज किया गया 

विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ नाम के संगठन द्वारा राम मंदिर के नाम पर चंदा वसूलने की जानकारी होने पर भाजपा नेताओं ने इसे गंभीरता से लिया है. भाजपा नेताओं के फोटो के गलत इस्तेमाल पर जिला अध्यक्ष की तरफ से मझोला थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया. विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ चंदे की रसीदें छपवा कर चंदा वसूल रहा था और सोशल मीडिया में भी भाजपा नेताओं के फोटो लगा कर चंदे की अपील की जा रही थी.

कैबिनेट मंत्री ने कार्रवाई की मांग की

कैबिनेट मंत्री भूपेन्द्र सिंह को इसकी जानकारी हुई तो भाजपा जिला अध्यक्ष द्वारा पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया गया है. विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने फोन पर जानकरी दी कि, उनका संगठन 2018 से काम कर रहा है और वह जमा धन राम मंदिर को भेजने वाले थे लेकिन अब चंदा रोक दिया गया है. वहीं यूपी के कैबनेट मंत्री भूपेन्द्र सिंह का कहना है कि ऐसे लोगों पर दंडात्मक कार्रवाई की जानी चाहिए. चंदे की रसीद पर मुख्यमंत्री, मंत्री और सम्मानित नेताओं के फोटो छपे हैं जो गलत हैं.

पुलिस का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है. साइबर सेल को भी जांच में लगाया गया है.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *