नरेश टिकैत : कुछ लोग सरकार के साथ बातचीत कर हल नहीं निकालना चाहते

आज सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों पर रोक लगा दी! क्योंकि लगभग 45 दिन पूरे हो चुके हैं लेकिन सरकार और किसानों के बीच की बातचीत का नतीजा नहीं निकल पा रहा! तो ऐसे में केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए कानूनों पर आज सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है! लेकिन वहीं इसी बीच भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कुछ किसान नेताओं पर सवाल भी खड़े कर दिए हैं!

दिल्ली उत्तर प्रदेश के गेट पर जारी किसानों के विरोध में पहुंचे नरेश टिकैत का कहना है कि कुछ ऐसे किसान नेता है जो सरकार के साथ बातचीत को सफल नहीं होने देते अगर बैठक में सभी सरकार की बात से सहमत भी हो तो दो-तीन उसमें असहमति जता देते हैं! उन्होंने आगे कहा कि इन नेताओं को चिन्हित कर समझाया जाएगा या विचार विमर्श कर वार्ता कमेटी से बाहर किया जाएगा!

मिली जानकारी के अनुसार, उन्होंने कहा है कि किसान वि-वाद नहीं बल्कि समाधान चाहता है यही वजह है कि अपनी मांगों को कई बार ठुकराने के बावजूद वह सरकार के बुलावे पर हर बार बात करने के लिए पहुंच रहा है! सरकार से बात करने के लिए 40 किसानों की कमेटी बनाई गई है इसमें से कुछ लगातार समाधान के बीच रोड़ा बने हुए हैं पता चलना चाहिए कि वह लोग कौन हैं?

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आगे कहा है कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की आपातकालीन बैठक सोमवार को होनी है यह कहां होगी इसका निर्णय लिया जाएगा इस बैठक में उत्तर प्रदेश गेट आंदो-लन स्थल के अलावा सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर के आंदो-लनरत किसान नेता भी शामिल रहेंगे! जिसके अंदर इस विरोध को लेकर तमाम महत्वपूर्ण मुद्दों के साथ ही अगली रणनीति तय की जाएगी!

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *