झांसी में तोड़ी गई पंडित नेहरू की प्रतिमा, धरने पर बैठे कांग्रेसी

नेहरू प्रतिमा के पास धरने पर बैठे पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की मांग है कि प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करने वालों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए.

झांसी: झांसी में पंडित जवाहर लाल नेहरू की प्रतिमा खंडित किये जाने के विरोध में धरने पर बैठे पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य को पुलिस ने बल पूर्वक हिरासत में ले लिया गया. पूर्व मंत्री को पुलिस घसीटते हुए टांगकर कर बस तक ले गई. पूर्व मंत्री के अलावा कांग्रेस के कई कार्यकर्ता और नेताओं को भी हिरासत में लिया गया.

क्या है मामला?
दरअसल कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता जवाहर लाल नेहरू की मूर्ति खंडित करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर इलाइट चैराहे पर नेहरू की प्रतिमा पर धरने पर बैठ गए थे. पुलिस ने धरना खत्म करने को कहा तो कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं माने. इस पर पूर्व मंत्री प्रदीप जैन आदित्य, एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक अभिषेक प्रताप समेत कांग्रेस के कई नेताओं को पुलिस टांगकर धरना स्थल से उठा ले गई और उन्हें बस में बैठाकर पुलिस लाइन ले आई.

पूर्व मंत्री प्रदीप जैन आदित्य ने कहा कि पुलिस चाहे हमे डंडे से मारे या गोली से हमें कोई फर्क नहीं पड़ता. हमारे आंदोलन में कोई कमी नहीं आई है. हम चुनौती देते हैं कि यदि इन्होंने पंडित जवाहर लाल नेहरू की नई प्रतिमा नहीं लगवाई तो हम एक-एक रुपए जमा कर अष्टधातु की नई प्रतिमा लगवाएंगे. आज पुलिस जिस तरह हमें लेकर आई है उसे हम योगी-मोदी सरकार का प्रसाद मानते हैं. आगे उन्होंने कहा कि योगी-मोदी सरकार का बस नहीं चला वरना वो लोग गोली मरवा देते. 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *